बीपी कैसे चेक करे | अपना Blood Pressure कैसे check करें

बीपी  चेक करे करने के लिए आप कई बार डॉक्टर पर जाना सही समझते है जो कि ठीक भी है। कई बार ऐसा होता है कि आप डॉक्टर पर किसी वजह से नहीं जा पाते और आपको अपना blood pressure घर पर ही check करना पड़ता है। लेकिन आपको यह नही पता होगा कि इसे घर पर कैसे check करें।
आज हमारी इस Post में आप जानेंगे कैसे घर पर रहकर आप मशीन की खुद reading लेकर आप अपना blood pressure check कर सकते हैं। और साथ ही इसके क्या कारण होते हैं ये भी जानेंगे। लेकिन यह सब जानने के लिए हमारी पूरी post शुरू से अंत तक पढ़िएगा।

बीपी कैसे चेक करे ?

कई लोग ऐसे हैं जो घर पर रहकर भी अपना blood pressure check करते हैं। खासकर हाई ब्लड प्रेशर वाले लोग ज्यादा करते हैं। आपके शरीर में blood pressure आपकी रक्त वहिकायो की दीवारों पर बल को मात्रा है जैसा कि आपका heart blood pump करता है। आप अपने ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) से जो सीखते हैं वह आपकी लाइफस्टाइल में सुधार कर सकता है और भविष्य, जीवन को बचाने और निदान को रोक सकता है। 4 important संकेतों में से एक blood pressure भी है, दूसरों में ह्रदय गति, श्वास दर और शरीर का तापमान। ये important संकेत एक normal विचार बनाने में help कर सकते हैं कि शरीर और उसके parts कितनी अच्छी तरह से अपना कम कर रहे हैं। आमतौर पर blood pressure cuff का use Blood Pressure measure kiya जाता है। जिन लोगो के पास सही उपकरण नहीं है और अपना ब्लड प्रेशर measure करना चाहते हैं, लेकिन यह सटीक रूप से करना तो मुश्किल है।
आपको बता दें कि काफी cases में blood pressure मशीन खरीदना या डॉक्टर के पास जाना ही बेहतर होता है। लेकिन हर समय जाना जब possible नहीं हो पाता तो घर पर ही अपना blood pressure aap check kr सकते हैं। यहां आपको हम बताएंगे कि बिना किसी उपकरण के आप अपना blood pressure कैसे check करेंगे और blood pressure किन किन कारणों से होता है।

Read This :
Full MP Police Syllabus 2021
Full Detail Bhulekkh Odisha 2021
कमर और पेट कम करने के उपाय
मेरे दोस्त का नाम क्या है

बीपी चेक करना

रक्तचाप शरीर में रक्त वाहिकाओं पर बल स्थानों की मात्रा को मापता है। Arteries के अंदर दबाव को इंगित करने वाले blood pressure reading में दो नंबर शामिल होते हैं क्योंकि ब्लड शरीर से बहता है। ऊपरी संख्या, जिसे सिस्टोलिक कहा जाता है, arteries के अंदर दबाव को measure करता है। क्योंकि heart blood pump करने के लिए अनुबंध करता है। डायस्टोलिक दबाव के नाम का नीचे वाला नंबर arteries के अंदर का दबाव है क्योंकि heart हर धड़कन के बीच रहता है।
American heart association के अनुसार Normal blood pressure 120/80 mm hg से कम होता है। लेकिन अगर यही संख्या 120/80 mm hg से कम हो जाती है तो यह अक्सर एक alert होता है कि heart arteries से blood pump करने के लिए बहुत hard work कर रह है।
अब हम आपको बताएंगे कि blood pressure बढ़ने के क्या क्या कारण होते हैं।

बीपी  बढ़ने के कारण:

बीपी बढ़ने के ज्यादातर चार है कारण होते हैं। वो हैं:
– Tention
– Fear
– High cholesterol
– Arteries में plaque build up
एक सटीक blood pressure reading बहुत जरूरी है क्योंकि high blood pressure कोई symptom नहीं दिखता। सिर्फ तभी तक जबतक यह खतरनाक रूप से बढ़ ना जाए।
जब किसी व्यक्ति को घर में बार बार blood pressure होने की दिक्कत होती है तो उसकी निगरानी के लिए एक blood pressure मशीन घर पर होनी जरूरी है। क्योंकि कई बार इन्हीं कारणों से डॉक्टर घर पर एक मशीन रखने की सिफारिश कर सकता है। जिसमें दिन के कुछ समय पर या कुछ दवाएं लेने के बाद ब्लड प्रेशर जानने की जरूरत होती है।

 

Thank You

Other Post : घर बैठे मोबाइल से पैसे कैसे कमाए ? how to earn money online

Leave a Comment